भारती एयरटेल की आय में भारी गिरावट आई है। मार्च में समाप्त चौथी तिमाही के दौरान दिग्गज टेलीकॉम कंपनी की इनकम 72 फीसद घटकर 373.4 करोड़ रुपये रह गई। रिलायंस जियो के आक्रामक ऑफरों ने कंपनी की आमदनी पर प्रतिकूल असर डाला।

वित्त वर्ष 2015-16 की चौथी तिमाही में एयरटेल की आय 1319 करोड़ रुपये रही थी। कंपनी का रेवेन्यू 24959.6 करोड़ से घटकर 21934.6 करोड़ रुपये रह गया। यह 12 फीसद की गिरावट को दर्शाता है। पूरे वित्त वर्ष के लिए आय 37.5 फीसद कम होकर 3799.7 करोड़ रुपये हो गई। जबकि रेवेन्यू 1.1 फीसद घटकर 95468.4 करोड़ रुपये रह गया।

इंडिगो का मुनाफा 25 फीसद घटा: इंडिगो की पैरेंट कंपनी इंटरग्लोब एविएशन के मुनाफे में गिरावट आई है। मार्च में समाप्त चौथी तिमाही के दौरान कंपनी का लाभ 25 फीसद घटकर 440.31 करोड़ रुपये रह गया। ईंधन की कीमतों में बढ़ोतरी ने प्रॉफिट को प्रभावित किया। वित्त वर्ष 2015-16 की इसी अवधि में उसे 583.78 करोड़ रुपये का लाभ हुआ था।

सिंडिकेट बैंक को 104 करोड़ का लाभ: सार्वजनिक क्षेत्र के सिंडिकेट बैंक को मार्च में समाप्त तिमाही के दौरान 104 करोड़ रुपये का लाभ हुआ है।

Leave a comment.

Your email address will not be published. Required fields are marked*